35k BEd Teachers Breaking News 2024: सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी क्यों नही सुलझ रही बीएड शिक्षकों की गुत्थी, NCTE बीएड की नौकरी खाने को तैयार

 35k BEd Teachers Breaking News 2024: उत्तर प्रदेश में पिछले कई वर्षों से कोई अन्य भर्तियां चर्चा में रही हों अन्यथा नहीं किंतु शिक्षक भर्ती ने हमेशा माहौल गरम करके रखा है। इन चर्चाओं में सिर्फ आगामी भर्तियों के लिए ही नहीं बल्कि पिछली भर्तियों में चयनित अभ्यर्थियों की नौकरी पर लटक रही तलवारों पर भी काफी बहस छिड़ी हुई है। क्योंकि अब 69000 शिक्षक भर्ती में शामिल 35000 चयनित बीएड शिक्षकों को सुप्रीम कोर्ट ने भले ही सुरक्षित बता दिया है किंतु नौकरी जाने का खतरा अभी भी बना हुआ है।

35k BEd Teachers Breaking News 2024

जैसा कि आपको पता होगा कि हमने पिछली पोस्ट के माध्यम से आपको इन 35000 बीएड शिक्षकों के पक्ष में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बारे में जानकारी साझा की थी। जिसमें हमने बताया था की सुप्रीम कोर्ट ने बिना ब्रिज कोर्स के पढ़ा रहे बीएड शिक्षकों को नौकरी सुरक्षित रहने का आश्वासन दिया है। किंतु एक खबर में यह भी बताया कि अगले एक वर्ष के अंदर ही कोर्ट ने राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद एनसीटीई को आदेश दिया की ब्रिज कोर्स करवाया जाए।

यह आदेश सुप्रीम कोर्ट ने एनसीटीई को तो दे दिया किंतु अभी तक NCTE द्वारा कोई भी ऐसी प्रतिक्रिया देखने को नहीं मिली जिससे बीएड शिक्षकों को सुकून मिले। या यूं कहें कि भरोसा हो सके कि अब चयनित बीएड शिक्षकों को ब्रिज कोर्स प्रमाणपत्र मिल जायेगा और नौकरी सुरक्षित रहेगी। 69000 शिक्षक भर्ती में अनुबंध 2018 के तहत एनसीटीई ने बीएड डिग्री धारकों का चयन करवाया था। जिसमें 2 साल के अंदर ब्रिज कोर्स करवाने का वायदा भी किया था किंतु ऐसा करने में असमर्थ रही है।

बीएड शिक्षकों की नौकरी लेकर मानेगा एनसीटीई

एनसीटीई के इस रवैए पर आपकी क्या सोच है कॉमेंट करके बताइए। आपको बता दें हमने कुछ लोगों से बात की जिनका चयन 69000 भर्ती में हुआ था। उन्हें अभी भी नौकरी जाने का दर बना हुआ है। कुछ ने तो इतना तक कह दिया कि एनसीटीई उनको नौकरी खाने के बाद ब्रिज कोर्स करवाएगा। अब देखना होगा राष्ट्रीय शिक्षक शिक्षा परिषद इसपर कब तक टिप्पणी करता है। तथा इस बारे में क्या योजना बनाता है।

Leave a Comment